सेहत कैसे बनाएं ( टाइम टेबल बनाए ) :-

सेहत कैसे बनाएं:-

  1. जल्दी सो कर उठे.
  2. एक्सरसाइज /योगा करें
  3. हैल्थी नाश्ता लेना ना भूले
  4. फ्रूट्स खाएं
  5. पानी पिएं
  6. दोपहर का भोजन
  7. बाहर का खाना बंद करें
  8. हल्की नींद लें
  9. दूध पिएं
  10. ड्राई फ्रूट्स खाएं
  11. जॉगिंग करें
  12. डिनर
  13. नशे का त्याग करें।

सेहत कैसे बनाएं :- 

सेहत कैसे बनाएं इसके लिए टइम टेबल बनाए – टाइम टेबल बनाने का मतलब है , कि हमे अपने लाइफ में अनुशासन लाना है। एक यह अनुशासन ही है , जो हमारे जीवन को सही दिशा देता है। बड़ी बड़ी कम्पनी भी किसी काम को शुरू करने से पहले प्लान बनाती हैं।

प्रकृति का अपना टाइम टेबल फिक्स होता है। एक निश्चित समय में दिन होता है , फिर रात हो जाती है। आज हम भी यही काम सबसे पहले करेंगे। अपना टाइम टेबल बनाएंगे।

इस टाइम टेबल में आपको सुबह उठने के समय से लेकर रात में सोते तक आपकी दिनचर्या का समय लिखना है, और निश्चित किए हुए समय पे अपने सारे काम करने हैं।

यह भी पढ़ें:-

सेहत कैसे बनाएं :- 

सेहत कैसे बनाएं:- 

1:- सुबह जल्दी सो कर उठे: हमे रोज सुबह 4-5 बजे के बीच उठ जाना चाहिए।

  • सुबह जल्दी उठने से हम ऊर्जावान बने रहते है , साथ ही बहुत सी बीमारियां भी हमसे दूरी बना लेती है।
  • जो लोग तनाव में रहते हैं , उन्हे विशेष तौर पे सुबह उठना ही चाहिए।
  • जो लोग सुबह जल्दी उठते है , उनके पास ज्यादा टाइम होता है और वे लोग ज्यादा से ज्यादा अपना काम कर सकते है और अपने लिए भी टाइम निकाल सकते हैं।

“जल्दी सोना जल्दी उठना नियम बहुत ही अच्छा है , जो भी इसका पालन करता वो ही अच्छा बच्चा है।”

2:- एक्सरसाइज/योगा करें: ऐसे लोग जो अपनी दिनचर्या में योग या एक्सरसाइज को शामिल करते है वे लोग दूसरों की अपेक्षा ज्यादा स्वस्थ और खुश रहते है।

  • रिसर्च में भी पाया गया है , कि जो सुबह जल्दी उठकर एक्सरसाइज या योगा करते है , वे लोग फिट रहते है। इसके साथ ही मानसिक रूप से शांत होते हैं।

3 :- हैल्थी नाश्ता लेना ना भूले: सुबह का नाश्ता सेहत के लिहाज़ से बहुत महत्वपुर्ण होता है। डॉक्टर और डायटीशियन भी हमेशा सुबह का नाश्ता खाने पर जोर देते हैं।

लेकिन आप इसमें सेहतमंद चीजों जैसे ओट्स, दलिया,उपमा, ढोकला, इडली दूध/ जूस को शामिल करें। अपने नाश्ते में मैदे से बनी हुई चीजें, ऑइली फूड, जंक फूड, आचार आदि को ना ले।

4 :- फलों से करें दोस्ती: अगर आप स्वस्थ रहना चाहते है , तो फलों से दोस्ती करना ना भूले। फलों में कई तरह के पोषक तत्व,खनिज, विटामिन्स पाए जाते हैं , जो हमारे शरीर के पोषण के लिए बहुत जरूरी है।

फलों के सेवन से पहले इसे खाने का सही समय का ज्ञान होना बहुत जरूरी है।

  • फलों को खाने के आधा घंटे पहले और आधा घंटे के बाद तक कुछ नहीं खाना चाहिए।
  • सुबह ब्रेकफास्ट में फलों का सेवन करना चाहिए।
  • खट्टे फलों को सुबह खाली पेट कभी भी ना खाएं।
  • मौसमी फलों को खूब खाएं।

5:- पानी पिए: पानी की महत्ता को हम बयां नहीं कर सकते। बिना पानी के हम अपने जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकते है। पर दोस्तो क्या आपको पता है , पानी पीने के भी कुछ नियम हैं | जिनको ना मानने से आपको तकलीफ का सामना करना पड़ सकता है।

  • हमे रोज  8-10 ग्लास पानी पीना ही चाहिए।
  • सुबह की शुरुआत गर्म या गुनगुना पानी पी करें।
  • हमेशा बैठ कर ही पानी पिए।
  • पानी को छोटी छोटी घूंट ले , एक साथ पानी नहीं पिएं।
  • खाना खाने के ½ घंटा पहले और ½ घंटे बाद तक पानी ना पिएं।
  • ठंडे पानी से परहेज़ करें।

6 :- दोपहर का भोजन: दोस्तो हम और बहुत से लोग अपने काम के वजह से दोपहर के भोजन को इग्नोर कर देते हैं। ऐसा करने से गैस, पेट फूलने, शुगर,थकान चिड़चिड़ापन और ना जाने कितने प्रकार के रोग होने की संभानाएं बढ़ जाती है।

हमारे शरीर को काम करने के लिए शक्ति/ऊर्जा की आश्यकता पड़ती है , जो कि हमे केवल भोजन से ही मिल सकता है।

  • भोजन करने का सबसे सही समय दोपहर 12-1:00 बजे तक का होता है। इस समय भोजन करने से हमारे शरीर खाने को सही तरीके से पचा सकता है।
  • हमे अपने दोपहर के भोजन में दाल, चावल,सब्जी, रोटी, दही, सलाद को शामिल करना चाहिए।

7 :- बाहर का खाना बंद करें – बाहर का भोजन कभी-कभी करना ठीक है पर इसे अपनी आदत ना बनाएं। बाहर का खाना वास्तव में हमारे स्वास्थ्य को ही खराब करता है।

  • बाहर के खाने में हाइजीन नहीं होता है , जिसके कारण से फ़ूड पोइज़निंग होने का खतरा बढ़ जाता है।
  • बाहर के खाने में चीनी और नमक ज्यादा मात्रा में डाली जाती है, और हम इस भोजन का सेवन करते हैं , तो हमारे शरीर में सोडियम और शुगर की मात्रा को बढ़ा देता है। जो कि हमारे शरीर के लिए बहुत ही नुकसानदेह होता है।
  • बाहर के गाने में वसा और कैलोरी की मात्रा भी बहुत ज्यादा पाई जाती है और इसके सेवन से मोटापा,गैस, पेट की अन्य समस्याएं उत्पन्न होती हैं।

8 :- हल्की नींद ले : क्या आपको पता है , दोपहर के भोजन के बाद 15-30 मिनट की हल्की नींद लेना चाहिए, ऐसा करने से स्वास्थ्य लाभ की प्राप्ति होती है।

  • थकान ख़तम हो जाता है।
  • दिमाग शांत करने में मदद करता है।
  • जो लोग दिन में नींद है , उन्हे हार्ट अटैक का खतरा आधा हो जाता है |
  • जब हम दोपहर में सो कर उठते है , तो हम अपने काम को बेहतर तरीके से कर सकते हैं , हम पहले से और अधिक अलर्ट हो जाते हैं।
  • दोपहर में सोने से सीखने की क्षमता भी बढ़ती है। पर यह हल्की नींद हर किसी के लिए फायदेमंद नहीं है।
  • शुगर पेशेंट को दोपहर की नींद नहीं लेनी चाहिए।
  • ऐसे लोग जो मोटापे के शिकार हैं और अपना वजन कम करना चाहते हैं उन्हें भी दोपहर में नहीं सोना चाहिए।
  • ऐसे लोग जो ऑइली फूड आते हैं उन्हें भी दोपहर में नहीं सोना चाहिए।

9 :- दूध पिए: दूध में कैल्शियम , सोडियम , पोटेशियम , विटामिन ए , पाए जाते हैं , जो हड्डियों के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं।

हम सभी को दूध पीना चाहिए , दूध पीने से पहले दूध के संदर्भ में कुछ जरूरी बातें जान ले :-

  • दूध बचाने में बहुत भारी होता है , इसलिए सुबह के समय में बच्चों को दूध देना चाहिए , क्योंकि वे दिनभर भागदौड़ करते हैं | खेलते कूदते रहते हैं ,आसानी से दूध को बचा लेते हैं और उनमें दिन भर एनर्जी बनी रहती है।
  • ऐसे लोग जिनकी आंखें कमजोर है , उन्हें शाम को दूध देना चाहिए।
  • दूध पीने का सबसे अच्छा समय रात को होता है | रात में खाना खाने के 1 घंटे के बाद ही गर्म दूध पीना चाहिए। इसे थकान भी मिटती है, और नींद भी अच्छी आती है।